Hindi Alt Code Characters for Remington Gail and Inscript Layout with Mangal Font

Typing Software for Allahabad High Court Exam 2018
May 8, 2018
soni hindi typing tutor
Best Online Hindi Typing Tutor in India
June 24, 2018

Hindi Alt Code Characters for Remington Gail and Inscript Layout with Mangal Font

Complete list of Alt Code characters for Mangal font typing. Useful for all typing exams for Remington Gail  and Inscript Layout. Although this list is valid for both Remington Gail and Inscript Layout. In this post we will learn how to type special characters of Hindi. These special characters are not available on keyboard directly.

What is Remington Gail/Inscript Layout?

Remington Gail Layout is the easiest and best layout for Hindi mangal font typing. This layout is available for almost all the exams. Unicode mangal font remington gail layout is almost similar to Krutidev/DevLys Hindi typing fonts. There are slight differences those can be understood easily with good practice. Most of the differences lies in the top row ie. numeric row.

On the other hand Inscript layout is also available as a choice with mangal font. This is hard to learn and not comfortable for Hindi typing. It is still used by many recruiters like CRPF, CISF, BSF and many more.

If you have a choice to choose one layout between these two then you should choose Remington Gail over Inscript layout. Reason is simple Remington Gail is easy to learn and easy to type quickly as compared to Inscript layout.

रेमिंग्टन गेल कीबोर्ड लेआउट मंगल फॉण्ट के साथ ही अन्य हिंदी यूनिकोड फॉण्ट के लिए सबसे अच्छा और आसान कीबोर्ड लेआउट है. मंगल फॉण्ट की लगभग सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की टाइपिंग में यह लेआउट आता है. यह कृतिदेव लेआउट के लगभग पूरी तरह समान है बस इसमें सबसे टॉप वाली लाइन में थोड़े बदलाव होते हैं जो कि आप अभ्‍यास करने के उपरांत आसानी से समझ सकते हैं।

इस पोस्ट में हम मंगल फॉण्ट के रेमिंगटन गेल कीबोर्ड लेआउट से बनने वाले हिंदी की कुछ अक्षरों की जानकारी हांसिल करेंगे. ऐसे अक्षर जो कीबोर्ड पर उपलब्ध नहीं हैं उन अक्षरों को.

There are two ways to type such characters/letters:-

जो अक्षर कीबोर्ड पर सीधे उपलब्ध नहीं हैं उन्हें बनाने के दो तरीके हैं.

  • Combination of  more than one letters(एक से अधिक अक्षरों के समायोजन  से)
    कुछ अक्षर एक से अधिक अक्षरों को एक साथ लिखकर बनाये जा सकते हैं. इन्हें हम कॉम्बिनेशनल अक्षर कह सकते हैं.
  • Alt + Code से 
    ऐसे अक्षर जो न तो सीधे लिखे जा सकते हैं और ना ही कॉम्बिनेशन से बनायेजा सकते हैं उन्हें हम कीबोर्ड पर Alt की के साथ कोई कोड(संख्या) दबाकर बनाते हैं.

 आगे हम एक-एक करके दोनों तरीकों को समझते हैं.अगर आप व्याकरण से परिचित हैं तो आपको यह जानकारी तो होगी ही। लेकिन अगर आप को हिन्दी व्याकरण का ज्यादा ज्ञान नहीं है तो आप नीचे दी गई सूची को पढ़ सकते हैं इससे आप हिन्दी यूनीकोड में विभिन्न वर्ण बना सकते हैं।

एक से अधिक अक्षरों के समायोजन (combination) से बनने वाले अक्षर

कुछ अक्षर कई अक्षरों के समायोजन से बनते हैं. अगर आपको व्याकरण का सामान्य ज्ञान भी है तो आप आसानी से समझ जायेंगे. नीचे दी गयी टेबलों को देखिये और समझने की कोशिश भी कीजिये कि इन अक्षरों को कैसे बनाया गया है. यह बिलकुल आसान है.

 

मात्रा लगाकर अक्षर बनाना

 

अक्षर

अक्षर और उदहारण

अ एवं ा की मात्रा

इ एवं र्क वाला र

ए एवं े की मात्रा

अ एवं ा की मात्रा एवं े की मात्रा

अ एवं ा की मात्रा एवं ै की मात्रा

अं

अ एवं ं की बिन्दु

अ:

अ एवं विसर्ग

श् एवं ा की मात्रा

 

हलंत के प्रयोग से अक्षर बनाना

हिंदी व्याकरण के अनुसार हम किसी भी पूरे अक्षर के अगर हलंत लगा देते हैं तो वह अक्षर आधा हो जाता है. हलंत लगाने पर हो सकता है वह अक्षर आपको आधा नहीं दिखे परन्तु फिर भी अगला अक्षर टाइप करते ही वह अक्षर आधा हो जायेगा.नीचे दी गई टेबल के कुछ अक्षर तो सीधे ही रेमिंगटन गेल लेआउट में कीबोर्ड पर उपलब्‍ध हैं फिर भी आप उन अक्षरों को इस वि‍धि से भी बना सकते हैं. यह केवल जानकारी के लिए ताकि आप समझ सकें कि मंगल फॉण्‍ट व्‍याकरण के अनुरूप कैसे व्‍यवहार करता है। जो अक्षर कीबोर्ड पर नहीं हैं उन्‍हें तो इस विधि से बनाने के अलावा हमारे पास दूसरा विकल्‍प ही नहीं है।

 

अक्षर  अक्षर और उदहारण

+्+ष

क्ष          : रक्षक, कक्षा
+्+म ह्म         : ब्रह्मा, ब्राह्मण
+्+न ह्न          : अपराह्न
+्+व ह्व          : आह्वान
+्+य ह्य         : बाह्य
+्+ध द्ध         : युद्ध, विरूद्ध
+्+य द्य         : विद्या, विद्यालय
+्+द द्द          : उद्दालक, गद्दा
+्+म द्म         : पद्मावत
+्+भ द्भ          : सद्भावना
+्+व द्व          : विद्वान, द्वारा
+्+न म्न        : प्रद्युम्न
+्+ज र्ज         : मर्ज, कर्ज
+्+त फ्त        : रफ्तार, गिरफ्तार
+्+र श्र         : श्रीमती, श्रीमान
+्+र

ट्र          : ट्रेन, बैट्री

 

Alt + Code से बनने वाले अक्षर

There are many letters which can not be formed with combinations. Please go through the following table for such letters. There are Hindi letters which can be formed with either combination or Alt+Code. It is your choice how you type such Hindi letters. The list of Alt+Codes is very long but you should not panic about it. Just read the list and you will observe that only a few characters are of your need. Many special characters are rarely used or either never used in Hindi typing. You will have to learn only about 10 Alt Codes.

वर्णमाला के वर्ण, जो मिश्रित करके नहीं बनाए जा सकते, उनकी सूची नीचे दी जा रही है। हालांकि इसमें ऐसे वर्ण भी हैं जो मिश्रित करके बन जाते हैं लेकिन अगर आप मिश्रित करके बनाने में असुविधा महसूस करते हैं तो इन शॉर्टकट कीज का उपयोग कर सकते हैं। Alt + Code से बनने वाले अक्षरों की लिस्‍ट वैसे तो बहुत बड़ी है लेकिन आप घबराइए नहीं क्‍योंकि इनमें से लगभग 10 ही आपके काम आयेंगे। कौनसे ज्‍यादा काम में आऐंगे यह अनुमान आप स्‍वयं ही लिस्‍ट देखकर लगा सकते हैं।

How to type inverted comma in Mangal Font Hindi Typing?

इनवर्टेड कोमा का प्रयोग किसी कथन को यथावत रूप से लिखने के लिए किया जाता है. जैसे-

“तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आज़ादी दूँगा”

To quote someone’s statement as it in his/her own words we use either single inverted comma or double inverted comma. Mostly people use double inverted comma over single inverted comma. There are many variants of inverted comma available in Mangal font. Look at the following table and see the difference. It is easy to note the difference.

कई बार हम डबल इनवर्टेड कोमा का प्रयोग करते हैं तो कई बार सिंगल इनवर्टेड कोमा का प्रयोग भी किया जा सकता है परन्तु डबल इनवर्टेड कोमा का प्रचलन अधिक है. इनवर्टेड कोमा में मामूली फर्क आपको आगे दी गई सारणी में स्‍पष्‍ट हो जाएगा। आप अन्‍तर समझने के लिए आप इन्‍हें तुरन्‍त एक साथ टाइप करके गौर से देखेंगे तो अन्‍तर पता चल जाएगा।

 

Alt Code Symbol Descriptions

Alt + 2305

चन्‍द्र बिन्‍दु

Alt + 2315

Alt + 2329
Alt + 2334
Alt + 2365
Alt + 2384
Alt + 2395
Alt + 2396
Alt + 2397
Alt + 2398
Alt + 2406 म०प्र०, डॉ० । यह हिन्‍दी का शून्‍य (Zero) है
Alt + 2416 डॉ॰, ई॰
Alt + 33 ! विस्‍मयादिबोधक चिह्न
Alt + 35 # हैश या नम्‍बर चिह्न
Alt + 36 $ डॉलर चिह्न
Alt + 37 % प्रतिशत चिह्न
Alt + 38 & एम्‍परसैण्‍ड चिह्न
Alt + 40 ( ब्रैकिट शुरू
Alt + 41 ) ब्रैकिट बन्‍द
Alt + 42 * स्‍टार / तारांकित चिह्न
Alt + 43 + प्‍लस चिह्न
Alt + 47 / भाग चिह्न
Alt + 58 : विसर्ग (colon )
Alt + 59 ; अर्द्धविराम (semicolon)
Alt + 60 < less than
Alt + 61 = बराबर का चिह्न
Alt + 62 > greater than
Alt + 63 ? प्रश्‍नवाचक चिह्न
Alt + 64 @ at the rate चिह्न
Alt + 91 [ बड़ा कोष्‍ठक शुरू
Alt + 92 \ backslash
Alt + 93 ] बड़ा कोष्‍ठक बन्‍द
Alt + 95 _ अंडरस्‍कोर चिह्न
Alt + 0123 { मंझला कोष्‍ठक शुरू
Alt + 0125 } मंझला कोष्‍ठक बन्‍द
Alt + 0150 संयोजक चिह्न(हाइफन)
Alt + 0151
Alt + 0215 × गुण चिह्न
Alt + 0189 ½ आधा चिह्न
Alt + 0190 ¾ तीन चौ‍थाई चिह्न
Alt + 0247 ÷ भागफल चिह्न
Alt + 0169 © कॉपीराइट चिह्न
Alt + 0155
Alt + 0153 ट्रेडमार्क चिह्न
Alt + 699 ʻ प्रारंभिक इनवर्टेड कोमा
Alt + 700 ʼ अंत वाला इनवर्टेड कोमा
Alt + 2404 पूर्ण विराम
Alt + 2405

डबल पूर्ण विराम

 

Type numbers in Hindi Devanagari script with mangal font?

We can type numbers in devanagari script with the help of following Alt + Codes. The list is valid for both Inscript and Remington Layout.

Alt + Code Symbol Description

Alt + 2406

देवनागरी लिपी में शून्‍य
Alt + 2407 देवनागरी लिपी में एक
Alt + 2408 देवनागरी लिपी में दो
Alt + 2409 देवनागरी लिपी में तीन
Alt + 2410 देवनागरी लिपी में चार
Alt + 2411 देवनागरी लिपी में पांच
Alt + 2412 देवनागरी लिपी में छह
Alt + 2413 देवनागरी लिपी में सात
Alt + 2414 देवनागरी लिपी में आठ
Alt + 2415

देवनागरी लिपी में नौ

 

 

The uppermost row on keyboard is called numeric row. There are many Hindi letters which can be found on this row. You don’t need Alt+codes for these letters. These letters can be directly typed with keyboard. Just have a look at the following list.

कीबॉर्ड की सबसे ऊपर की पंक्ति को न्‍यूमेरिक रॉ कहते हैं।  न्‍यूमेरिक रॉ में आने वाले कुछ चिह्न या अक्षर इस प्रकार हैं। इनके लिए आपको Alt Code या किसी कॉम्बिनेशन की आवश्यकता नहीं है आप शिफ्ट के साथ सीधे ही कीबोर्ड से बना सकते हैं-

कीबोर्ड का न्‍यूमेरिक बटन बनने वाला अक्षर विशेष विवरण

शिफ्ट + ESC के नीचे वाला बटन

द्य द्य
ESC के नीचे वाला बटन ड़, ढ़ के नीचे लगने वाला बिन्दु
शिफ्ट +1 पूर्ण विराम
शिफ्ट +2 / भाग का चिह्न
शिफ्ट +3 : विसर्ग
शिफ्ट +4 * स्‍टार चिह्न
शिफ्ट +5 हाइफन का चिह्न
शिफ्ट +6 प्रारंभ का सिंगल इनवर्टेड कोमा
शिफ्ट + 7 अंत का सिंगल इनवर्टेड कोमा
शिफ्ट +8 द्ध  द्ध
शिफ्ट + 9 त्र  त्र
शिफ्ट +0  ऋ  ऋ
शिफ्ट + हायफ़न . म.प्र., डॉ., प्रो. आदि वाला बिन्दु बनता है।
हाइफन बटन ; अर्धविराम (Semicolon)
प्लस (+) बटन से कृ, पृ, हृ आदि वाला ‘र’
शिफ्ट साथ के प्लस (+)

हलंत (अक्षर को आधा बनाने हेतु )

नोट — वर्ग की घात लगाने के लिए शब्द के बाद बिना स्पेस दिए शॉर्टकट कीज का प्रयोग करें।

Some more tips for special Hindi characters

  1. ट्र:ट के बाद Z बटन यानि क्र,म्र,प्र आदि वाला ‘र’ दबाने से बन जाएगा।
  2. फ्त: फ के बाद हलंत लगाकर त दबाने से आसानी से बन जाता है।
  3. : बनाने के लिए उ के बाद शिफ्ट के साथ Q बटन दबाएं।
  4.  इ टाइप करके शिफ्ट के साथ Z बटन। इसी प्रकार र्ति, र्मी, र्गी, र्दी भी बनाए जा सकते हैं।

ऊपर बताए गए सभी कोड और तरीके के लिए आपको इन्‍हें याद करने की आवश्‍यकता नहीं है क्‍योंकि सोनी टाइपिंग ट्यूटर में यह सभी जानकारी जब आप टाइपिंग सीखते हैं तो प्रत्‍येक अक्षर के साथ ही बता दी जाती है और स्‍क्रीन पर शो कर दी जाती है ताकि आपको ज्‍यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। सोनी टाइपिंग ट्यूटर सभी प्रतियोगिता परीक्षाओं को ध्‍यान में रखकर बनाया गया सॉफ्टवेयर है।

मंगल फॉन्ट सॉफ्टवेयर एवं इसके लेआउट के बारे में अगर आपको कोई कनफ्यूजन है तो आप नीचे कमेंट करके  हमें बता सकते हैं या आप 7424910327 पर हमें व्‍हाट्सएप पर मेसेज भी कर सकते हैं। हम आपको सवालों का जवाब देने का भरपूर एवं अथक प्रयास करेंगे।

Share करना ना भूलें

It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on Twitter
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.